AYE MERE WATAN KE LOGON LYRICS – Desh Bhakti Song

Aye Mere Watan Ke Logon Lyrics  – Is The Patriotic Hindi Song Sung By Lata Mangeshkar. “Ae Mere watan ke logon”. Song Lyrics Written By Kavi Pradeep And Music Composed By C. Ramchandra, This Song Was A Tribute To The Indian Soldiers Who Died During The Sino-indian War

https://youtu.be/DSJ1MMGi_IQ

AYE MERE WATAN KE LOGON LYRICS - Desh Bhakti Song

Song -Ae Mere Watan Ke Logon
Artist -Lata Mangeshkar
Lyricst- Kavi Pradeep
Music- C. Ramchandra
Album -Aye Mere Watan Ke Logon-old Patriotic Song

 

Aye Mere Watan Ke Logon Lyrics

Aye Mere Watan Ke Logon
Tum Khoob Laga Lo Naara
Ye Shubh Din Hai Hum Sab Ka
Lehraa Lo Tirangaa Pyara

Par Mat Bhoolo Seemaa Par
Veeron Ne Hai Praan Ganwaaye
Kuchh Yaad Unhe Bhi Kar Lo
Kuchh Yaad Unhe Bhi Kar Lo
Jo Laut Ke Ghar Na Aaye
Jo Laut Ke Ghar Na Aaye

Aye Mere Watan Ke Logon
Zara Aankh Mein Bhar Lo Paani
Jo Shaheed Huey Hain Unki
Zara Yaad Karo Qurbaani (X2)

Jab Ghaayal Huaa Himalaya
Khatre Mein Padi Aazaadi
Jab Tak Thi Saans Lade Wo
Jab Tak Thi Saans Lade Wo
Phir Apni Laash Bichhaa Di

Sangeen Pe Dhar Kar Maatha
So Gaye Amar Balidaani
Jo Shaheed Huey Hain Unki
Zara Yaad Karo Qurbaani

Jab Desh Mein Thi Diwaali
Wo Khel Rahe The Holi
Jab Hum Baithe The Gharon Mein
Wo Jhel Rahe The Goli
Thay Dhanya Jawaan Wo Apne
Thi Dhanya Wo Unki Jawaani
Jo Shahid Huey Hain Unki
Zaraa Yaad Karo Qurbaani

Koi Sikh Koi Jaat Maratha
Koi Sikh Koi Jaat Maratha
Koi Gorkha Koi Madrasi
Koi Gorkha Koi Madrasi
Sarhad Pe Marane Waala
Har Veer Tha Bharatwasi

Jo Khoon Gira Parvat Par
Wo Khoon Tha Hindustani
Jo Shahid Huey Hain Unki
Zara Yaad Karo Qurbaani
Thi Khoon Se Lath Pat Kaaya

Phir Bhi Bandook Uthaake
Dus Dus Ko Ek Ne Maara
Phir Gir Gaye Hosh Ganwaa Ke

Jab Ant Samay Aayaa To
Keh Gaye Ke Ab Marte Hain

Jab Ant Samay Aayaa To
Keh Gaye Ke Ab Marte Hain

Khush Rehnaa Desh Ke Pyaaron
Khush Rehnaa Desh Ke Pyaaron
Ab Hum To Safar Karte Hain
Ab Hum To Safar Karte Hain
Kya Log Thay Wo Deewaane
Kya Log The Wo Abhimaani

Jo Shahid Huey Hain Unki
Zaraa Yaad Karo Qurbaani
Tum Bhool Naa Jaao Unko
Iss Liye Kahi Ye Kahaani
Jo Shahid Huey Hain Unki
Zaraa Yaad Karo Qurbaani
Jay Hind… Jay Hind Ki Senaa
Jay Hind… Jay Hind Ki Senaa
Jay Hind, Jay Hind, Jay Hind

ऐ मेरे वतन के लोगों
तुम खूब लगा लो नारा
ये शुभ दिन है हम सब का
लहरा लो तिरंगा प्यारा
पर मत भूलो सीमा पर
वीरों ने है प्राण गँवाए
कुछ याद उन्हें भी कर लो
कुछ याद उन्हें भी कर लो
जो लौट के घर ना आये
जो लौट के घर ना आये
ऐ मेरे वतन के लोगों
ज़रा आँख में भर लो पानी
जो शहीद हुए हैं उनकी
ज़रा याद करो क़ुरबानी
ऐ मेरे वतन के लोगों
ज़रा आँख में भर लो पानी
जो शहीद हुए हैं उनकी
ज़रा याद करो क़ुरबानी
तुम भूल ना जाओ उनको
इसलिए सुनो ये कहानी
जो शहीद हुए हैं उनकी
ज़रा याद करो क़ुरबानी
जब घायल हुआ हिमालय
खतरे में पड़ी आज़ादी
जब तक थी साँस लड़े वो
जब तक थी साँस लड़े वो
फिर अपनी लाश बिछा दी
संगीन पे धर कर माथा
सो गये अमर बलिदानी
जो शहीद हुए हैं उनकी
ज़रा याद करो क़ुरबानी
जब देश में थी दीवाली
वो खेल रहे थे होली
जब हम बैठे थे घरों में
जब हम बैठे थे घरों में
वो झेल रहे थे गोली
थे धन्य जवान वो अपने
थी धन्य वो उनकी जवानी
जो शहीद हुए हैं उनकी
ज़रा याद करो क़ुरबानी
कोई सिख कोई जाट मराठा
कोई सिख कोई जाट मराठा
कोई गुरखा कोई मदरासी
कोई गुरखा कोई मदरासी
सरहद पर मरनेवाला
सरहद पर मरनेवाला
हर वीर था भारतवासी
जो खून गिरा पर्वत पर
वो खून था हिंदुस्तानी
जो शहीद हुए हैं उनकी
ज़रा याद करो क़ुरबानी
थी खून से लथ-पथ काया
फिर भी बन्दूक उठाके
दस-दस को एक ने मारा
फिर गिर गये होश गँवा के
जब अन्त-समय आया तो
जब अन्त-समय आया तो
कह गए के अब मरते हैं
खुश रहना देश के प्यारों
खुश रहना देश के प्यारों
अब हम तो सफ़र करते हैं
अब हम तो सफ़र करते हैं
क्या लोग थे वो दीवाने
क्या लोग थे वो अभिमानी
जो शहीद हुए हैं उनकी
ज़रा याद करो क़ुरबानी
तुम भूल न जाओ उनको
इस लिये कही ये कहानी
जो शहीद हुए हैं उनकी
ज़रा याद करो क़ुरबानी
जय हिन्द जय हिन्द
जय हिन्द की सेना
जय हिन्द जय हिन्द
जय हिन्द की सेना
जय हिन्द जय हिन्द जय हिन्द

 

You may also like...

close